Tere Darshan Ko Ganraja Lyrics no.1 तेरे दर्शन को गणराजा तेरे दरबार आए है

Estimated read time 2 min read

Tere Darshan Ko Ganraja Lyrics : तेरे दर्शन को गणराजा तेरे दरबार आए है | Suno Dekho Kirtan Karo Radhe Radhe

तेरे दर्शन को गणराजा
Tere darshan ko Ganraja

दोहा

नसीब वालों को हे गणराजा,
तेरा दीदार होता है,
जिसपे होता है नजरेकरम,
उसका बेडा पार होता है।
तेरे दर्शन को गणराजा,
तेरे दरबार आए है,
तेरे दरबार आए है,
तेरे दरबार आए है,
तेरे दरशन को गणराजा,
तेरे दरबार आए है।।

Doha

Naseeb walo ko hey Ganraja,
Tera deedar hota hai,
Jispe hota hai nazar-e-karam,
Uska beda paar hota hai.
Tere darshan ko Ganaraja,
Tere darbar aaye hai,
Tere darbar aaye hai,
Tere darbar aaye hai,
Tere darshan ko Ganaraja,
Tere darbar aaye hai ||

Tarj – Agar Shyama ju na hoti |

सुना है मैंने गणराया,
तुम्हे लड्डू ही भाते है,
सुना है मैंने गणराया,
तुम्हे लड्डू ही भाते है,
तुम्हारे भोग में भगवन,
हाँ लड्डू साथ लाए है,
तेरे दरशन को गणराजा,
तेरे दरबार आए है।।

Suna hai maine Ganraya,
Tumhe laddoo hi bhaate hain,
Suna hai maine Ganraya,
Tumhe laddoo hi bhaate hain,
Tumhaare bhog mein Bhagwan,
Haan laddoo saath laaye hain,
Tere darshan ko Ganraja,
Tere darbar aaye hai ||

तुम्हे दूर्वा सदा चढ़ती,
लोग ऐसा सदा करते,
तुम्हे दूर्वा सदा चढ़ती,
लोग ऐसा सदा करते,
बेल पाती के संग संग में,
हाँ दूर्वा हार लाए है,
तेरे दरशन को गणराजा,
तेरे दरबार आए है।।

Tumhe durva sadaa chadhti,
Log aisa sadaa karte,
Tumhe durva sadaa chadhti,
Log aisa sadaa karte,
Bel paati ke sang sang mein,
Haan durva haar laaye hain,
Tere darshan ko Ganraja,
Tere darbar aaye hai ||

Tere Darshan Ko Ganraja Lyrics

तुम्हे वस्त्रों में पीताम्बर,
पहनते हमने देखा है,
तुम्हे वस्त्रों में पीताम्बर,
पहनते हमने देखा है,
की दरजी से भी सिलवाकर,
तुम्हारे वस्त्र लाए है,
तेरे दरशन को गणराजा,
तेरे दरबार आए है।।

Tumhe vastron mein pitambar,
Pehente humne dekha hai,
Tumhe vastron mein pitambar,
Pehente humne dekha hai,
Ki darji se bhi silwakar,
Tumhare vastra laaye hain,
Tere darshan ko Ganraja,
Tere Darshan Ko Ganraja Lyrics ||

सुना है ताजे फूलों के,
तुम्हे गजरे सुहाते है,
सुना है ताजे फूलों के,
तुम्हे गजरे सुहाते है,
बागों से ‘सुमन योगी’,
सुगन्धित फुल लाए है,
तेरे दरशन को गणराजा,
तेरे दरबार आए है।।

Suna hai taaje phoolon ke,
Tumhe gajre suhaate hain,
Suna hai taaje phoolon ke,
Tumhe gajre suhaate hain,
Baagon se ‘Suman Yogi’,
Sugandhit phool laaye hain,
Tere darshan ko Ganraja,
Tere darbar aaye hai ||

तेरे दर्शन को गणराजा,
तेरे दरबार आए है,
तेरे दरबार आए है,
तेरे दरबार आए है,
तेरे दरशन को गणराजा,
तेरे दरबार आए है।।

Tere darshan ko Ganraja,
Tere darbar aaye hai,
Tere darbar aaye hai,
Tere darbar aaye hai,
Tere darshan ko Ganraja,
Tere darbar aaye hai ||

Swar – Shahnaz Akhtar |

Read More : ज्वाला सी जलती है देवा श्री गणेशा देवा || गजानंद नमन करो स्वीकार

🙏 Ganesh Ji Bhajan Lyrica’s 🙏

रोजाना अपडेट के लिए व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें

HTML tutorial

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours