Shardiya Navratri 2023: कब से शुरू होगी शारदीय नवरात्रि? जानिए तिथि शुभ मुहूर्त और महत्व

Estimated read time 1 min read

Shardiya Navratri 2023: कब से शुरू होगी शारदीय नवरात्रि? जानिए तिथि शुभ मुहूर्त और महत्व | शारदीय नवरात्रि 2023 तिथि | शारदीय नवरात्रि 2023 घटस्थापना समय | शारदीय नवरात्रि 2023 कैलेंडर | शारदीय नवरात्रि कलश स्थापना का मुहूर्त

Shardiya Navratri 2023
Shardiya Navratri 2023

Shardiya Navratri 2023: कब से शुरू होगी शारदीय नवरात्रि? जानिए तिथि शुभ मुहूर्त और महत्व

Shardiya Navratri सनातन धर्म में नवरात्रि पर्व का विशेष महत्व है। हिंदू पंचांग के अनुसार आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शारदीय नवरात्रि का शुभारंभ हो जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शारदीय नवरात्रि में मां शक्ति के 9 स्वरूपों की उपासना करने से साधक को विशेष लाभ प्राप्त होता है। साथ ही जीवन में आ रही सभी समस्या दूर हो जाती है।

  1. शारदीय नवरात्रि की शुरुआत आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से हो जाती है।
  2. नवरात्रि में नौ दिनों तक देवी दुर्गा की उपासना करने से सुख, समृद्धि की प्राप्ति होती है।
  3. जानते हैं, कब से शुरू हो रही है शारदीय नवरात्रि, शुभ मुहूर्त और घट स्थापना समय?

नई दिल्ली, अध्यात्म डेस्क । Shardiya Navratri 2023 Date and Shubh Muhurat: हिंदू धर्म में नवरात्रि पर्व का विशेष महत्व है। बता दें कि हर वर्ष दो नवरात्रि पर मनाए जाते हैं। एक चैत्र मास में और दूसरा आश्विन मास में। आश्विन मास में पड़ने वाली नवरात्रि को शारदीय नवरात्रि के नाम से जाना जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार, शारदीय नवरात्रि की शुरुआत आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से हो जाती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, शारदीय नवरात्रि में घटस्थापना और नौ दिनों तक देवी दुर्गा की उपासना करने से साधक को सुख, समृद्धि एवं ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है। आइए आचार्य श्याम चंद्र मिश्र जी से जानते हैं, कब से शुरू हो रही है शारदीय नवरात्रि, शुभ मुहूर्त और घट स्थापना समय?

शारदीय नवरात्रि 2023 तिथि (Shardiya Navratri 2023 Start Date)

हिंदू पंचांग के अनुसार, आश्विन शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि 14 अक्टूबर रात्रि 11 बजकर 24 मिनट से शुरू होगी और 16 अक्टूबर मध्य रात्रि 12 बजकर 32 मिनट पर समाप्त हो जाएगी। ऐसे में शारदीय नवरात्रि पर्व का शुभारंभ 15 अक्टूबर 2023, रविवार के दिन होगा। इस विशेष दिन पर चित्रा नक्षत्र और स्वाति नक्षत्र का निर्माण हो रहा है, जिसे शुभ कार्यों के लिए बहुत ही श्रेष्ठ माना जाता है।

शारदीय नवरात्रि 2023 घटस्थापना समय (Shardiya Navratri 2023 Ghatsthapana Muhurat)

शास्त्रों में बताया गया है कि शारदीय नवरात्रि के शुभ अवसर पर घटस्थापना मुहूर्त अभिजीत मुहूर्त के दौरन तय होता है। घट स्थापना का समय निश्चित चित्रा नक्षत्र के दौरन ही होता है। ऐसे में इस दिन चित्रा नक्षत्र 14 अक्टूबर को शाम 04 बजकर 24 मिनट से 15 अक्टूबर शाम 06 बजकर 13 मिनट तक रहेगा। वहीं अभिजीत मुहूर्त सुबह 11 बजकर 04 मिनट से सुबह 11 बजकर 50 मिनट के बीच रहेगा, इसलिए घटस्थापना पूजा भी इसी अवधि में की जाएगी।

शारदीय नवरात्रि 2023 कैलेंडर (Shardiya Navratri 2023 Calender)

15 अक्टूबर 2023- मां शैलपुत्री की पूजा

16 अक्टूबर 2023- मां ब्रह्मचारिणी की पूजा

17 अक्टूबर 2023- मां चंद्रघंटा की पूजा

18 अक्टूबर 2023- मां कूष्मांडा की पूजा

19 अक्टूबर 2023- मां स्कंदमाता की पूजा

20 अक्टूबर 2023- मां कात्यायनी की पूजा

21 अक्टूबर 2023- मां कालरात्रि की पूजा

22 अक्टूबर 2023- मां सिद्धिदात्री की पूजा

23 अक्टूबर 2023- मां महागौरी की पूजा

24 अक्टूबर 2023- विजयदशमी (दशहरा)

शारदीय नवरात्रि कलश स्थापना का मुहूर्त

शारदीय नवरात्रि की प्रतिपदा तिथि के दिन कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त 15 अक्टूबर को 11 बजकर 44 मिनट से दोपहर 12 बजकर 30 मिनट तक है। कलश स्थापना के लिए इस साल केवल 46 मिनट का समय रहेगा। इस मुहुर्त में आप कलश स्थापना कर सकते हैं।  

कलश स्थापना विधि 

  • शारदीय नवरात्रि के पहले दिन सुबह उठकर स्नान आदि करके साफ वस्त्र पहनें। 
  • फिर मंदिर की साफ-सफाई करके गंगाजल छिड़कें। 
  • इसके बाद लाल कपड़ा बिछाकर उस पर थोड़े चावल रखें। मिट्टी के एक पात्र में जौ बो दें। 
  • साथ ही इस पात्र पर जल से भरा हुआ कलश स्थापित करें। कलश में चारों ओर आम या अशोक के पत्ते लगाएं और स्वास्तिक बनाएं। 
  • फिर इसमें साबुत सुपारी, सिक्का और अक्षत डालें। 
  • एक नारियल पर चुनरी लपेटकर कलावा से बांधें और इस नारियल को कलश के ऊपर पर रखते हुए मां जगदंबे का आहवाहन करें। 
  • फिर दीप जलाकर कलश की पूजा करें। 

Read More : नवरात्रि के 9 दिनों में मनाएं खास भोग, हर देवी को प्रसन्न करें के लिए इसे पढ़ें

🙏 Mata Ji ke Bhajan Lyrica’s 🙏

रोजाना अपडेट के लिए व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें

HTML tutorial

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours