Shani Dev Aarti Lyrics – Om Jai Jai Shri Shani Maharaj ॐ जय जय शनि महाराज: श्री शनिदेव आरती

Estimated read time 2 min read

Shani Dev Aarti Lyrics – Om Jai Jai Shri Shani Maharaj ॐ जय जय शनि महाराज: श्री शनिदेव आरती

श्री शनिदेव आरती (Shani Dev Aarti Lyrics)

Shri Shanidev Aarti Audio Download

Shri Shanidev And Hanuman Bhajan Audio Download

ॐ जय जय शनि महाराज,
स्वामी जय जय शनि महाराज ।
कृपा करो हम दीन रंक पर,
दुःख हरियो प्रभु आज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

सूरज के तुम बालक होकर,
जग में बड़े बलवान ।
सब देवताओं में तुम्हारा,
प्रथम मान है आज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

विक्रमराज को हुआ घमण्ड फिर,
अपने श्रेष्ठन का ।
चकनाचूर किया बुद्धि को,
हिला दिया सरताज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

प्रभु राम और पांडवजी को,
भेज दिया बनवास ।
कृपा होय जब तुम्हारी स्वामी,
बचाई उनकी लॉज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

शुर-संत राजा हरीशचंद्र का,
बेच दिया परिवार ।
पात्र हुए जब सत परीक्षा में,
देकर धन और राज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

गुरुनाथ को शिक्षा फाँसी की,
मन के गरबन को ।
होश में लाया सवा कलाक में,
फेरत निगाह राज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

माखन चोर वो कृष्ण कन्हाइ,
गैयन के रखवार ।
कलंक माथे का धोया उनका,
खड़े रूप विराज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

देखी लीला प्रभु आया चक्कर,
तन को अब न सतावे ।
माया बंधन से कर दो हमें,
भव सागर ज्ञानी राज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

मैं हूँ दीन अनाथ अज्ञानी,
भूल भई हमसे ।
क्षमा शांति दो नारायण को,
प्रणाम लो महाराज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

ॐ जय जय शनि महाराज,
स्वामी जय-जय शनि महाराज ।
कृपा करो हम दीन रंक पर,
दुःख हरियो प्रभु आज ॥
॥ ॐ जय जय शनि महाराज ॥

Shani Dev Aarti Lyrics In English

Shani Dev Aarti Lyrics - Om Jai Jai Shri Shani Maharaj ॐ जय जय शनि महाराज श्री शनिदेव आरती
Shani Dev Aarti Lyrics – Om Jai Jai Shri Shani Maharaj ॐ जय जय शनि महाराज श्री शनिदेव आरती

Om Jay Jay Shani Maharaj,
Swami Jay Jay Shani Maharaj.
Kripa Karo Ham Deen Rank Par,
Dukh Hariyo Prabhu Aaj |1
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Suraj Ke Tum Balak Hokar,
Jag Mein Bade Balwan.
Sab Devtaon Mein Tumhara,
Pratham Maan Hai Aaj |2
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Vikramaraj Ko Hua Ghamand Phir,
Apne Shreshthan Ka.
Chaknachoor Kiya Buddhi Ko,
Hila Diya Sarataj |3
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Prabhu Ram Aur Pandavaji Ko,
Bhej Diya Banvaas.
Kripa Hoy Jab Tumhari Swami,
Bachai Unki Loj |4
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Shur-Sant Raja Harishchandra Ka,
Bech Diya Parivar.
Patra Hue Jab Sat Pariksha Mein,
Dekar Dhan Aur Raj |5
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Gurunath Ko Shiksha Phansi Ki,
Man Ke Garban Ko.
Hosh Mein Laya Sawa Kalak Mein,
Phirat Nigah Raj |6
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Makhan Chor Wo Krishna Kanhai,
Gaian Ke Rakhwaar.
Kalank Mathe Ka Dhoya Unka,
Khade Roop Viraj |7
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Dekhi Leela Prabhu Aaya Chakkar,
Tan Ko Ab Na Sataave.
Maya Bandhan Se Kar Do Hamein,
Bhav Sagar Gyaani Raj |8
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Main Hoon Deen Anaath Agyaani,
Bhool Bhayi Hamse.
Kshama Shanti Do Narayan Ko,
Pranam Lo Maharaj |9
॥ Om Jay Jay Shani Maharaj ॥

Description:

शनि महाराज” के महत्वपूर्ण रूप, कृपा, और वरदान को उजागर करती है और भक्त की प्रार्थना करती है कि भगवान शनि महाराज उनके दुखों को हरें और उन्हें आशीर्वाद दें। यह आरती भगवान शनि की महिमा, उनके उपकार, और धर्म के प्रति विश्वास को दर्शाती है, और भक्तों को उनके आशीर्वाद की कामना करने के लिए प्रोत्साहित करती है।

Read More :

रोजाना अपडेट के लिए व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें

HTML tutorial

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours