Aatma Jaag Gayi Bhajan Lyrics | आत्मा जाग गई शिव भजन लिरिक्स

Estimated read time 1 min read

Aatma Jaag Gayi Bhajan Lyrics | आत्मा जाग गई शिव भजन लिरिक्स

आत्मा जाग गई शिव भजन Aatma Jaag Gayi Bhajan Lyrics

ऐसा भोले ने डमरू बजाया
आत्मा जाग गई
नाद ओंकार का यूं सुनाया
नाद बम बम का मुझको सुनाया
आत्मा जाग गयी
शिव की जटा में थी गंग धारा
धो गई मैल जो मन का सारा
मैने गंगा में गोता लगाया
आत्मा जाग गयी
ऐसा भोले ने डमरू बजाया
आत्मा जाग गयी ।।1

भोले की बारात का न्योता
बाबा भोले नाथ का न्योता
ले के चंदा मेरी छत पे आया
आत्मा जाग गयी
ऐसा भोले ने डमरू बजाया
आत्मा जाग गयी ।।2

नींद कई जन्मों की टूटी
शिव ने पिला के प्रेम की बूटी
अपने हाथों से अमृत पिलाया
आत्मा जाग गयी
ऐसा भोले ने डमरू बजाया
आत्मा जाग गयी ।।3

गौरी साथ मेरे भोले के
कोमल हाथ मेरे भोले के
हाथ सर पे मेरे जब घुमाया
आत्मा जाग गयी
ऐसा भोले ने डमरू बजाया
आत्मा जाग गयी ।।4

ऐसा भोले ने डमरू बजाया
आत्मा जाग गई
नाद ओंकार का यूं सुनाया
नाद बम बम का मुझको सुनाया
आत्मा जाग गयी
शिव की जटा में थी गंग धारा
धो गई मैल जो मन का सारा
मैने गंगा में गोता लगाया
आत्मा जाग गयी
ऐसा भोले ने डमरू बजाया
आत्मा जाग गयी ।।5 Aatma Jaag Gayi Bhajan Lyrics

Aatma Jaag Gayi Bhajan Lyrics | आत्मा जाग गई शिव भजन लिरिक्स
Aatma Jaag Gayi Bhajan Lyrics | आत्मा जाग गई शिव भजन लिरिक्स

रोजाना अपडेट के लिए व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें

HTML tutorial

You May Also Like

More From Author